Vaidik Gyan...
Total:$776.99
Checkout

अभी आर भारत चैनल को देख और सुनकर लिखना अपना कर्तव्य समझा ।

Share post:

अभी आर भारत चैनल को देख और सुनकर लिखना अपना कर्तव्य समझा ।
आज सुप्रीम कोर्ट ने योगी आदित्य नाथ जी के बुलडोजर चलने से मनाही नहीं किया ।
अर्थात up में सरकार ने जो बुलडोजर योजना चला रहा है उसपर प्रतिबन्ध लगाने से मना कर दिया ।
सवाल यहां है की असदुद्दीनओवैसी जगह जगह चिल्ला कर मुसलमानों को भड़का रहा था, और यह भी कह रहा था c,m, योगी जी के लिए की यह चीप जस्टिस बन गए क्या ?
जो लोगों का घर तोड़ रहे है गलती किसने की उसके मां के घर किस लिए तोड़ा गया ?
मैने कई दिन पहले ही कहा शायदओवैसी ने बार एट लॉ की डिग्री नहीं लिया । क्यों की इन्हें कानून की जानकारी नहीं है।
अगर कानून की जानकारी होती तो इस्लाम के मानने वाले भाग भाग कर सुप्रीम कोर्ट कई बार जाते रहे | अब वह बाबरी मस्जिद को लेकर हो, तीन तलाक को लेकर हो, 370 को लेकर हो, CAA के खिलाफ हो, काशी विश्वनाथ या ज्ञान बापी मस्जिद को लेकर हो, अथवा बुलडोजर के पक्ष को लेकर हो |
 
कोई यह बताये की असदुद्दीन ओवैसी कभी किसी केस की पैरवी करने के लिए किसी भी कौर्ट में कभी गया हो ? इसका मूल कारण है की उसके नाम से बेरिस्टर लगाया जाता है जो फर्जी है बिलकुल फर्जी है |
अगर वह कानून की पढाई की होती तो हर केस की पैरवी करने वह खुद जाता और मुसलमानों से यही कहता आप लोग हटो मैं मुसलमानों का रहनुमा हूँ और इस केस को मैं ही देखूंगा ?
योगी जी पर कोर्ट जाने की बातें नहीं कहते , कारण घर सरकारी जगह में बनी उन्हें नोटिस पहले दिया गया है। इसे ओवैसी जानता हो नहीं, और न उसकी चर्चा की कभी सरकारी जमीं को कब्ज़ा करके घर माँ बनाये या बाप बनाये अवैध तो अवैध ही है इसे असदुद्दीन ओवैसी कैसे चुनौती दे सकता है ?
 
यह मुसलमानों को सरकार के खिलाफ भड़काने की डिग्री इनके पास है । मुसलमानों को भी इस सत्यता को जानना चाहिए और असदुद्दीनओवैसी को मुस्लिम समाज से बाहर का रास्ता दिखा देना चाहिए।।
महेन्द्र पाल आर्य 16जून 22,

Top