Vaidik Gyan...
Total:$776.99
Checkout

बंगाल में बंगालियों के बीच आर्य समाज को न ले जा पाना यही कमी है

Share post:

https://youtu.be/QN75ggo-WZI
 
बंगाल में बंगालियों के बीच आर्य समाज को न ले जा पाना यही कमी है हिंदी भाषियों में यह लोग सभी पद को जकड कर बैठे हैं और किसी बंगाली विद्वानों को आने नहीं देना चाहते | इससे बहुत बड़ा नुक्सान बंगाल प्रनत का हो रहा है |
 
बंगाल में जब ठाकुर अनुकूल चन्द्र का प्रचार हो सकता हैं जिन्हों ने रसूल गीता पुस्तक लिखी |
इसी बंगाल में बालक ब्रह्मचारी का जो अल्लाह वही राम का प्रचार हो सकता है तो ऋषि दयानंद जी के ईश्वर और अल्लाह अलग है हम क्यों नहीं दिखा पायेंगे ?
 
इसी बंगाल में लोकनाथ ब्रह्मचारी का प्रचार हो सकता है तो ऋषि दयानंद के बताये वेद विचार को हम क्यों नहीं बता पा रहे हैं बंगालियों को,यह कमी किनकी है ?

Top